सुशांत आत्महत्या मामले में 8 पर केस

0
95
Sushant_Singh_Rajpoot_twitter_Image

वकील ने कहा- आरोप साबित हुए तो सलमान, करन समेत आठों को हो सकती है 10 साल की जेल

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या मामले में बिहार के मुजफ्फरपुर में 8 बॉलीवुड सेलेब्स के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। वकील सुधीर कुमार ओझा ने यह केस करन जौहर, आदित्य चोपड़ा, साजिद नाडियाडवाला, सलमान खान, संजय लीला भंसाली, भूषण कुमार, एकता कपूर और दिनेश विजान के खिलाफ दर्ज कराया है। ओझा ने जो आरोप लगाए हैं, अगर वे साबित हो जाते हैं तो सभी को 10 साल तक की जेल हो सकती है।

ओझा का आरोप है कि ये लोग इरादतन सुशांत की फिल्में रिलीज नहीं होने देते थे। फिल्म से जुड़े अवॉर्ड फंक्शन और दूसरे कार्यक्रमों में सुशांत को नहीं बुलाते थे। उसे साइडलाइन करके रखते थे, जिससे हताश और निराश होकर उन्होंने आत्महत्या का कदम उठाया। ओझा कहते हैं, “सुशांत से 7- 8 फिल्में हाथ से छीनी गई थीं। ये फिल्में कौन सी थीं, वह तो मैं देख कर बताऊंगा। लेकिन ये सुशांत की जगह रणवीर सिंह और रणबीर कपूर को दे दी गई थीं। इनमें एक फिल्म ‘पानी’ शेखर कपूर के साथ थी। उनकी फिल्मों की रिलीज तक में अड़ंगा डाला जाता था।”

सुशांत की मौत के बाद लगातार ट्रोलिंग झेल रही कृति सेनन का फूटा गुस्सा

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद मीडिया और फैन्स के रवैय्ये से कृति सेनन काफी गुस्से में हैं। उन्होंने इंस्टाग्राम पर लंबी-चौड़ी पोस्ट लिखकर अपनी भड़ास निकाली है। सुशांत की मौत के बाद सोशल मीडिया पर कृति ने तुरंत कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी जिसकी वजह से पिछले कुछ दिनों से ट्रोल हो रही थीं। इसी वजह से उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी बात कही। 

कृति ने लिखा, ‘यह बहुत ही अजीब बात है कि ट्रोलिंग और गॉसिप करने वाली दुनिया अचानक जागे और आपकी अच्छाईयों के बारे में बात करने लग जाए जब आप इस दुनिया में न रहो। सोशल मीडिया सबसे फेक और जहरीली जगह है। और अगर आपने पब्लिकली कुछ नहीं लिखा और RIP पोस्ट नहीं किया तो समझ लिया जाता है कि आपको दुख नहीं है जबकि रियलिटी में यही लोग सबसे ज्यादा दुखी होते हैं।ऐसा लगता है कि सोशल मीडिया रियल दुनिया है और रियल दुनिया फेक समझी जाने लगी है। 

मीडिया पर भी उठाए सवाल: कृति ने अपनी पोस्ट में मीडिया पर भी सवाल उठाते हुए लिखा, ‘कुछ मीडियाकर्मी अपनी संवेदनशीलता पूरी तरह से खो चुके हैं। ऐसे समय में वह आपसे कमेंट की अपेक्षा करते हैं और आपको लाइव आने के लिए कहते हैं। कैसे???’ अंतिम संस्कार में जाते वक्त साफ तस्वीर क्लिक करने के लिए कार का दरवाजा ठोकना और बोलना,मैडम शीशा नीचे करो न। मैं मीडिया से गुजारिश करती हूं अंतिम संस्कार पर्सनल होते हैं। ऐसी जगह न आएं और आएं तो थोड़ी गरिमा बनाए रखें। इंसानियत को काम से ऊपर रखें। चमक-धमक के बीच हम भी साधारण इंसान हैं और हमारी भी आप ही की तरह कुछ भावनाएं हैं। यह मत भूलिए।’ 

कृति ने कहा, ‘रोना कमजोरी नहीं’: कृति ने इसके अलावा जर्नलिज्म की भी मर्यादा तय करने की बात कही और ब्लाइंड आइटम्स को पूरी बैन करने की मांग की।

कृति ने आगे कहा, ‘हमें ये बातें बोलनी बंद करनी होगी कि लड़के नहीं रोते, ऐसे नहीं रोते, रो मत और स्ट्रॉन्ग बनो। रोना, कमजोरी की निशानी नहीं होती। तो अगर आपको रोना आता है तो रो, आपको चिल्लाना है तो चिल्लाएं। ठीक महसूस नहीं कर रहे तो कोई बात नहीं इसमें कुछ गलत नहीं है। आप अपना टाइम लो और चीजें ठीक करो। परिवार से बात करो जो आपसे बहुत प्यार करता है। वो आपकी ताकत है और हमेशा आपके साथ रहेंगे।’

निधन के दो दिन बाद सुशांत के लिए लिखी पोस्ट: इससे पहले कृति ने मंगलवार को सोशल मीडिया पर सुशांत को याद करते हुए एक बेहद इमोशनल पोस्ट लिखी थी। उन्होंने कहा था, ‘मेरे दिल का एक हिस्सा तुम्हारे साथ ही चला गया सुशांत। काश तुमने उन लोगों को खुद से दूर न किया होता जो तुमसे प्यार करते थे।’

जब फैन के कहने पर सुशांत सिंह राजपूत ने दान कर दिए थे 1 करोड़

रविवार को सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद लोगों को उनसे जुड़े किस्से याद आ रहे हैं। ऐसा ही एक किस्सा 2018 का है जब केरल में भयानक बाढ़ आई थी। इस बाढ़ से लाखों लोग प्रभावित हुए थे और कई लोगों की जान गई थी। सुशांत से एक फैन ने इंस्टाग्राम पर कहा था, ‘मेरे पास पैसे नहीं हैं लेकिन मैं कुछ खाने का सामान दान करना चाहता हूं। कैसे करूं।’ 

सुशांत ने फैन को रिप्लाई करते हुए लिखा, ‘मैं तुम्हारे नाम से 1 करोड़ रु. दान करता हूं। इसके बाद सुशांत ने डोनेशन करने के बाद सोशल मीडिया पर स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए उस फैन को यह मौका देने के लिए धन्यवाद कहते हुए लिखा था, ‘मेरे दोस्त जैसा तुम चाहते थे, मैंने वैसा कर दिया है। यह तुमने तब किया है जब इसकी बहुत जरूरत है। ढेर सारा प्यार। माय केरल।’ 

1 साल में दान किए थे 3.5 करोड़: फैन के नाम पर 1 करोड़ दान करने के अलावा सुशांत ने 2018-19 के बीच 2.5 करोड़ और दान किए थे। उन्होंने 2018 में असम में आई बाढ़ से प्रभावित लोगों के लिए 1.25 करोड़ डोनेट किए थे। सुशांत को याद करते हुए राइटर-डायरेक्टर चारूदत्त आचार्य ने यह बात फेसबुक पोस्ट में बताई है। चारू के पिता पीबी आचार्य 2014-19 के बीच असम के गवर्नर थे। वहीं, केरल बाढ़ से प्रभावितों के लिए भी सुशांत ने 1.25 करोड़ का दान दिया था। केरल के मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन ने भी उन्हें याद करते हुए एक स्टेटमेंट जारी करते हुए कहा, हम सुशांत सिंह राजपूत के निधन की खबर सुनकर बेहद दुखी हैं। उनके निधन से फिल्म इंडस्ट्री का नुकसान हुआ है। मैं दुख की इस घड़ी में उनके परिवार, दोस्त और फैन्स के साथ हूं। साथ ही केरल बाढ़ के समय उनकी मदद को भी याद करता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here